परिमेय संख्याओं और उनके दशलव प्रसारों का पुनर्भ्रमन

परिमेय संख्या  का या तो सांत दशमलव प्रसार (terminating decimal expansions) में लिख सकते हैं या फिर असांत आवर्ती दशमलव प्रसार (non-terminating repeating decimal expansions)

(i)0.789 – सांत दशमलव प्रसार
(ii)0.16571657… –असांत आवर्ती दशमलव प्रसार
(iii)0.10110111011110…-असांत आनावर्ती दशमलव प्रसार
[0.789 – सांत दशमलव प्रसार
0.16571657… –असांत आवर्ती दशमलव प्रसार ]
इसको परिमेय संख्या के फॉर्म में लिखा जा सकता है ।
लेकिन [0.10110111011110…-असांत आनावर्ती दशमलव प्रसार ] परिमेय संख्या के फॉर्म में नहीं लिखा जा सकता है । इसलिए ऐसी संख्या अपरिमेय संख्या कहलाती है ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.